तुझे में कुचल दूंगा मेरी बहन से दूर रहे… जब शाहरुख को गौरी के भाई ने धमकाया अब हुआ खुलासा

शाहरुख खान हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के सबसे बड़े सुपरस्टार में से एक हैं और वह जो भी करते हैं वह सुर्खियां बन जाता है। वह और उनकी पत्नी गौरी खान हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के पावर कपल हैं। वह जहां भी जाते हैं हर किसी का ध्यान अपनी ओर खींच लेते हैं और अपने हर लुक से सबका ध्यान अपनी ओर खींच लेते हैं। गौरी खान ने एक इंटरव्यू में बताया था कि क्योंकि उनकी शादी अंतरजातीय थी (शाहरुख मुस्लिम थे और गौरी हिंदू), इसलिए उनका परिवार इसके सख्त खिलाफ था।

जब शाहरुख को गौरी के भाई ने धमकाया अब हुआ खुलासा

गौरी ने आगे कहा कि उनका भाई, जो उनसे डेढ़ साल बड़ा है, जब भी खान को गौरी की ओर देखते हुए पाता तो उत्साहित हो जाता। उन्होंने एक पुराने इंटरव्यू में बताया था, ”वह (विक्रांत) बहुत ही शांत स्वभाव का लड़का है, लेकिन जब भी वह शाहरुख को देखता तो लाल ही नजर आता। वह मुझे लेकर बहुत पजेसिव था और जब भी वह शाहरुख को मेरी ओर देखते हुए पाता था तो उसका मन मुझे मारने का करता था।

वह चिल्ला कर कहता था, ‘मैं तुम्हें पीट-पीटकर टुकड़े-टुकड़े कर दूंगा, मैं तुम्हें कुचल डालूंगा” गौरी ने जह भी बताया कि इन धमकियों ने उस वक्त शाहरुख को बहुत परेशान किया होगा, लेकिन चूंकि वह मेरा भाई था, इसलिए शाहरुख सिर्फ सिर हिलाकर कहते थे, ‘हां, हां, आप जो भी कहें।’ शाहरुख से उनकी मुलाकात कैसे हुई, इसका खुलासा करते हुए गौरी ने कहा, ”मैं शाहरुख से तब मिली थी जब मैं नौवीं कक्षा में थी और वह बारहवीं में थे।

उसी साल और उसी महीने विक्रांत की मुलाकात अपनी गर्लफ्रेंड से भी हुई. उसके लिए किसी लड़की को डेट करना तो ठीक था, लेकिन मैं शाहरुख को पसंद करने की हिम्मत भी नहीं कर पा रही थी।’ विक्रांत को शाहरुख खान को स्वीकार करने में चार साल लग गए। आपको बता दें कि शाहरुख खान और गौरी की शादी 25 अक्टूबर 1991 को हुई थी. उस वक्त शाहरुख खान 26 साल के थे और गौरी 22 साल की थीं.